IOCE

28 April 2024

Life Insurance Management Course | Agent Document Manager

Life Insurance Management Course

Agent Document Manager


हिंदी भाषा में पढ़ें »

In today's article of Jeevan Bima Bazaar, we will get information about Agent Document Manager. Agent Document Manager is a Digital Platform where you can keep your customers' Documents organized for free and use it whenever needed. So let us know about it in detail

What is Agent Document Manager?

Any Digital Platform where you can keep your Important Documents safe is called a Document Manager. Now if a Life Insurance Agent secures the documents of his customers on a Digital Platform, then such a system is known as Agent Document Manager.

Why should Policyholders' Documents be Kept?

When you sell a New Life Insurance Policy, you have to perform a variety of Policy Servicing tasks from the time the policy is sold until the final payment of the policy. To do these tasks, you need various types of documents of your customers like Photo, Photo Identity Proof, Residence Certificate etc.

Now if you have the customer's documents with you then you can easily do the work for your customer. Otherwise you have to go to the customer's house to collect his documents. Therefore, if you keep your customer's documents safe then you are successful in providing fast services to your customers.

After the sale of a Life Insurance Policy, you will need documents from your policyholder on many occasions. For example, suppose you are planning to sell a Life Insurance Policy again to one of your old policyholders. So you would know that to sell a New Life Insurance Policy you will have to fill a Proposal Form.

Family History has to be written in the Proposal Form, apart from this, information like height-weight, identification mark etc. of the policyholder also has to be given. Now if you had sold life insurance policies to the customer 3 to 4 years ago. So today how will you be able to write this information about the customer correctly?

Suppose you have received the policy bond of your customer from your branch office and you hand over the policy bond of your customer to the customer. But after a few days the customer says that you have not given the customer his policy bond, then what will you do?

Suppose that due to some reason you have deposited the policy bond of the customer in the Branch Office of LIC and you have given its receipt to the customer. But the customer is denying that you have given any receipt to the customer and the bond is not available in the Branch Office of LIC, what should you do now?

There are many such important reasons, due to which it becomes necessary for agents to keep the documents of their customers safe.

What type of Documents are Required to be kept

Life Insurance Agents require customer documents mainly for two reasons. The first reason is to sell a New Insurance Policy to the customer or to do work related to Policy Servicing. Second Reason - In case of transfer of various types of documents, to prove that which person has the original documents of the customer?

So if you are a life insurance agent then you should keep the following documents of your customers safe-

  • Master Data File of Customer's Proposal Form
  • Customer's Photo
  • Customer's Photo Identity Proof
  • Customer's Residence Certificate
  • Customer's Income Proof
  • Customer's Age Proof
  • Policy Bond
  • First Premium Reciept
  • Receipt received at the time of transfer of documents

Legal Side in Terms of Documents:

Before you start safeguarding various types of important documents of your clients, it is important that you know the legal rules in this context. To the best of our knowledge, you cannot retain any customer documents without the customer's consent.

Additionally, if you store your customers' important documents, you need to ensure that they are not misuse in any way.

Therefore, our suggestion to you would be that at the time of filling the proposal form for new insurance, you should inform your customers that their documents will be safe with you. If you get the customer's consent letter in this regard then it will be good for you.



26 April 2024

जीवन बीमा मैनेजमेंट कोर्स | अभिकर्ता डॉक्यूमेंट मैनेजर

जीवन बीमा मैनेजमेंट कोर्स

अभिकर्ता डॉक्यूमेंट मैनेजर


Read in English »

जीवन बीमा बाजार के आज के इस लेख में हम एजेंट डॉक्यूमेंट मैनेजर के बारे जानकारी प्राप्त करेंगे। एजेंट डॉक्यूमेंट मैनेजर एक ऐसा डिजिटल प्लेटफार्म है जहा पर आप फ्री में अपने ग्राहकों के दस्तावेजों को व्यवस्थित रख सकते हैं और जरुरत पड़ने पर आप इसका उपयोग कर सकते हैं। तो चलिए, इसके बारे में विस्तार से जानते हैं

एजेंट डॉक्यूमेंट मैनेजर क्या होता है-

ऐसा कोई भी डिजिटल प्लेटफार्म जहाँ आप अपने महत्वपूर्ण दस्तावेजों को सुरक्षित रख सकते हों, उसे डॉक्यूमेंट मैनेजर कहा जाता है। अब अगर एक जीवन बीमा एजेंट अपने ग्राहकों के दस्तवेजो को किसी डिजिटल प्लेटफार्म पर सुरक्षित करता है तो ऐसे सिस्टम को एजेंट डॉक्यूमेंट मैनेजर के नाम से जाना जाता है।

पॉलिसीधारकों के दस्तावेज क्यों रखना चाहिए-

जब आप एक नई जीवन बीमा पॉलिसी बेचते हैं, तो आपको पॉलिसी बेचने से लेकर पॉलिसी के अंतिम भुगतान तक कई प्रकार के पॉलिसी सर्विसिंग कार्य करने होते हैं। इन कार्यों को करने के लिए आपको अपने ग्राहकों के विभिन्न प्रकार के दस्तावेजों की आवश्यकता होती है जैसे फोटो, फोटो पहचान पत्र, निवास प्रमाण पत्र आदि।

अब अगर आपके पास ग्राहक के दस्तावेज़ हैं तो आप आसानी से अपने ग्राहक का काम कर सकते हैं। अन्यथा आपको ग्राहक के घर जाकर उसके दस्तावेज लेने होंगे। इसलिए, यदि आप अपने ग्राहकों के दस्तावेज़ सुरक्षित रखते हैं तो आप अपने ग्राहकों को तेज़ सेवाएँ प्रदान करने में सफल होते हैं।

जीवन बीमा पालिसी विक्री के उपरांत आपको कई मौको पर आपके बीमाधारक के दस्तावेजों की जरुरत होती है। उदाहरण के लिए मान लीजिए कि आप अपने किसी पुराने बीमाधारक को एक बार फिर से जीवन बीमा पॉलिसी बेचने की योजना बना रहे हैं। तो आपको यह पता होगा कि नई जीवन बीमा पॉलिसी बेचने के लिए आपको प्रपोजल फॉर्म भरना होगा।

प्रपोजल फॉर्म में फॅमिली हिस्ट्री लिखनी होती है, इसके अतिरिक्त पॉलिसीधारक का हाइट-वेट, पहचान चिन्ह इत्यादि जैसी जानकारी भी देनी होती है। अब अगर आपने ग्राहक को 3 से 4 साल पहले जीवन बीमा पालिसी बेचीं थी। तो आज आप ग्राहक के बारे में इन जानकारियों को सही सही कैसे लिख पाएंगे?

मान लीजिये कि आपने ग्राहक का पॉलिसी बांड अपने शाखा कार्यालय से प्राप्त कर लिया है और आप अपने ग्राहक के पॉलिसी बांड को ग्राहक को दे देते हैं। लेकिन कुछ दिनों के बाद ग्राहक यह बोलता है कि आपने ग्राहक को उसका पॉलिसी बांड नहीं दिया है, तब आप क्या करेंगे?

मान लीजिये कि किसी कारण-वश आपने ग्राहक का पॉलिसी बांड, एलआईसी के शाखा कार्यालय में जमा किया है और उसकी रिसीविंग आपने ग्राहक को दे दी है। लेकिन ग्राहक इससे इंकार कर रहा है कि आपने ग्राहक को कोई रिसीविंग दी है और एलआईसी के शाखा कार्यालय में बांड नहीं मिल पा रहा है, अब आप क्या कीजियेगा?

ऐसे ही कई महत्वपूर्ण कारण होते हैं, जिसकी वजह से एजेंट को उनके ग्राहकों के दस्तावेजों को सुरक्षित रखना जरुरी हो जाता है।

किस प्रकार के दस्तावेज़ रखने होंगे-

जीवन बीमा एजेंट को ग्राहकों के दस्तावेजों की जरूरत मुख्य रूप से दो वजहों से होती है। पहली वजह - ग्राहक को नई बीमा पॉलिसी बेचना हो अथवा पालिसी सर्विसिंग से सम्बंधित कार्य करना हो। दूसरी वजह- विभिन्न प्रकार के दस्तावेजों के हस्तानांतरण में यह प्रमाणित करना हो कि ग्राहक के मूल दस्तावेज किस व्यक्ति के पास हैं?

तो अगर आप एक जीवन बीमा एजेंट हैं तो आपको अपने ग्राहकों के निम्नलिखित दस्तावेजों को सुरक्षित रखा चाहिए-

  • ग्राहक के प्रपोजल फॉर्म की मास्टर डाटा फाइल
  • ग्राहक की फोटो
  • ग्राहक का फोटो पहचान पत्र
  • ग्राहक का निवास प्रमाण पत्र
  • ग्राहक का आय प्रमाण पत्र
  • ग्राहक का आयु प्रमाण पत्र
  • ग्राहक का पालिसी बांड
  • ग्राहक के पहली प्रीमियम की रसीद
  • दस्तावेजों के हस्तानांतरण के समय प्राप्त रिसीविंग

दस्तावेजों के संदर्भ में कानूनी पक्ष:

इससे पहले की आप अपने ग्राहकों के विभिन्न प्रकार के महत्वपूर्ण दस्तावेजों को सुरक्षित रखें, आपको इस संदर्भ के कानूनी नियमों को जानना बेहद जरुरी है। हमारी जानकारी के अनुसार, आप किसी भी ग्राहक के दस्तावेज बिना ग्राहक के सहमति के अपने पास सुरक्षित नहीं कर सकते हैं।

इसके अतिरिक्त, अगर आप अपने ग्राहकों के महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपने पास सुरक्षित करते हैं, तो आपको यह सुनिश्चित करना होगा कि किसी भी प्रकार से ग्राहकों के दस्तावेजों को मिस यूज़ न हो।

इसलिए आपके लिए हमारा सुझाव होगा कि नए बीमा के लिए प्रपोजल फॉर्म भरते समय आप अपने ग्राहकों को बता दें कि उनके दस्तावेज आपके पास सुरक्षित रहेंगे। यदि आपको इस संबंध में ग्राहक का सहमति पत्र मिल जाए तो यह आपके लिए अच्छा होगा।



27 March 2024

Life Insurance Management Course Chapter - 1

Life Insurance Management Course Chapter - 1


Life Insurance Management Course Chapter - 1



हिंदी भाषा में पढ़ें »

If you are a Life Insurance Agent and want to achieve success, it is extremely important for you to manage your Personal and Professional Life Tasks. This work will help you establish a balance in your Personal and Professional Life, which will lead to success in your Family Life and your Life Insurance Agency.

We are launching Life Insurance Management Course so that Life Insurance Agents can achieve success by maintaining harmony in their Personal and Professional lives. Through various chapters of this Management Course, you will be able to know different types of Management Rules to make your Business Successful.

In today's article of Jeevan Bima Bazaar, the first chapter of Life Insurance Management Course is being presented. This chapter explains how a Life Insurance Agent can apply the principles of management in his professional and personal life. If you are a Life Insurance Agent then you should read this article carefully and adopt the information given here.



From the Author-

My name is Ritesh Kumar Upadhyay and I am working as a Life Insurance Consultant in Life Insurance Corporation of India (LIC) since the year 2001. Additionally, since 2015, I have been continuously training Life Insurance Agents and Development Officers using a variety of Digital Platforms.

As a writer, before starting this Agent Management Course, I would like to tell you that whatever information I am going to present through the various chapters of this Management Course is based on my own experiences. Which I have achieved during my work and training programs.

So let us start the first chapter of this Life Insurance Management Course.

Leave the Habit of Procrastination-

If a Life Insurance Agent wants to be successful, he should first give up the habit of postponing his important tasks. Because if you postpone your important tasks, then due to this you have to face complex problems and with your own hands you end the chances of achieving success in your future.

Now when I am talking about postponing work, I do not mean only your business work. Rather, what I mean is both your Personal and Professional Work. If you give importance only to your personal work then your professional work will be affected and if you give importance to your professional work then you will have to face tension in your family.

Now if I explain the personal duties of a Life Insurance Agent then I would like to say that you are very important for your family along with being a Life Insurance Agent. You have to do various types of work for your family like buying monthly household items from the market, arranging medicines for elderly members, depositing children's school fees, etc., these are the tasks which you have to do only.

Similarly, to run your Life Insurance Business, you have to work for New Business, provide services for Previous Policies and do various other types of work. Apart from this, a Life Insurance Agent also has to do various types of office related work.

Just imagine, what could be the consequences if a Life Insurance Agent has a habit of postponing his work. Let us understand through some possibilities.



Personal Duties of a Life Insurance Agent-

Suppose your wife tells you one morning that when you return home in the evening, you will buy vegetables from the market. Now imagine for a moment, you are late in returning home and you forget to buy vegetables. So what could be the outcome of this?

Next day morning you will have to go to the field to conduct your Life Insurance Business. Your children have to go to school. Your wife will face problems due to lack of vegetables. The result of which may be that due to tension you and your wife may have a fight.

Now if this happens then imagine the next day when you go to the field to do your Life Insurance Business, what will be the impact of such an incident on your business?

Professional work of Life Insurance Agent-

Although a Life Insurance Agent has to do many types of work in his Life Insurance Business, but I want to draw your attention to some important tasks. Suppose one day you meet three people in your work area and one of them tells you that he wants to discuss a Life Insurance Policy with you and he will be free the next day, due to which he wants to meet you the next day.

Now you think that when you go home in the evening, you will write that person's name in the Prospect List. But if you do not do this in the evening, what could be the consequences? It is possible that the next day you may forget the customer due to some other work and may not contact him. Now even if you go to meet that person after time has passed, it is possible that the person may not give you time.

If you have a habit of procrastinating in your professional work, then surely after some time you will come to know that the person who wanted to buy a Life Insurance Policy from you has already purchased the policy from someone else.

First Management Rule for Life Insurance Agent-

The above incidents testify to the fact that if you have the habit of postponing tasks, then because of this you will have to face difficulties in both your personal and professional life. Therefore, our first suggestion for your success would be that if you want to make your Life Insurance Business Successful, then you should immediately give up the habit of procrastination.



Apply Arrangement System-

If you are an old agent of Life Insurance Corporation of India, then you must have seen the docket room of your Branch Office. In olden times, until LIC had digitalized its proposal forms, Proposal Forms for various types of works were obtained from the docket room only.

In those days, if you needed a policy docket, you used to write down your policy number. Shortly after doing this, you would receive your policy docket. Similarly, in other institutions there are rules to keep things organized. So that when needed, related things can be easily obtained.

Now if you are a Life Insurance Agent, consider how you organize your stuff? Suppose you had deposited the premium of one of your customers two months ago and had kept its receipt in your bag. But due to some reasons you had taken out its receipt from your bag and kept it somewhere. Today that customer has come to your house and is asking for his receipt, now the question is, will you be able to give his receipt to your customer in the next 5 minutes?

If you are a Life Insurance Agent, then you will have to develop the habit of keeping various types of things organized in your family life and professional life. But this work is very difficult to be done by you alone. You will have to inculcate the habit of keeping things organized in all the members of your family.

Example- Suppose you and other members of your family keep various types of household items here and there in the house and you think that it is the responsibility of one member of the family to keep the things in order. The people living in a house whose habits and ideologies are like this, often fight among themselves and remain stressed due to not getting the necessary things.

Imagine that you have prepared a list last evening in which you have written which people you will meet in the field today and what you will do in the field today? But you left the page of that list there last evening. Now, You are taking bath and at the same moment some guests come to your house. Your wife asked the children to remove the items kept on the table and make the guests sit there.

After some time, the children go to school and after the guests leave, you get ready to go to your work field. Now you need the list you made last evening but can't find it. Imagine what the situation would be like at your home? Now you also think about whose fault it is in this entire process and what could be its consequences?

Friends, due to many such small incidents, your entire family has to face stress and your and your Life Partner's time gets wasted due to unnecessary reasons. Think for yourself that after facing so much stress at home, if you have to go to the field, will you be able to run your Life Insurance Business properly and what could be the condition of your life partner in such an environment?

Second Management Rule for Life Insurance Agent-

If you are a Life Insurance Agent then you should make a strategy to arrange different types of daily things in your Family Life. Along with this you also need to organize all types of items related to your business.

While making such a strategy, you should involve all the members of your family. After talking to them, rules should be made with everyone's consent and it should be ensured that all the family members follow these rules. If you do this, it will save a lot of time for you and all your family members and all your family members will be free from unnecessary family stress.





25 March 2024

जीवन बीमा मैनेजमेंट कोर्स अध्याय - 1

जीवन बीमा मैनेजमेंट कोर्स अध्याय - 1


जीवन बीमा मैनेजमेंट कोर्स अध्याय - 1



Read in English »

यदि आप एक जीवन बीमा एजेंट हैं और सफलता हासिल करना चाहते हैं, तो आपको अपने व्यक्तिगत और व्यावसायिक जीवन के कार्यों को प्रबंधित करना अत्यंत महत्वपूर्ण है। यह कार्य आपको अपने व्यक्तिगत और व्यावसायिक जीवन में संतुलन स्थापित करने में सहायक होगा, जिससे आपको आपके पारिवारिक जीवन और आपके जीवन बीमा एजेंसी में सफलता प्राप्त होगी।

हम जीवन बीमा मैनेजमेंट कोर्स शुरू कर रहे हैं ताकि जीवन बीमा एजेंट अपने व्यक्तिगत और व्यावसायिक जीवन में सामंजस्य बनाए रखकर सफलता प्राप्त कर सकें। इस मैनेजमेंट कोर्स के विभिन्न अध्यायों के माध्यम से आप अपने व्यवसाय को सफल बनाने के लिए विभिन्न प्रकार के प्रबंधन नियमों को जान सकेंगे।

जीवन बीमा बाजार के आज के इस लेख में, जीवन बीमा मैनेजमेंट कोर्स के पहले अध्याय को प्रस्तुत किया जा रहा है। इस अध्याय में बताया गया है कि एक जीवन बीमा एजेंट को अपने प्रोफेशनल जीवन एवं व्यक्तिगत जीवन में प्रबंधन के नियमों को कैसे लागू कर सकते हैं। अगर आप एक जीवन बीमा एजेंट हैं तो आपको इस लेख को ध्यान से पढ़ना चाहिए और यहाँ पर दी गई जानकारी को अपनाना चाहिए।



लेखक की ओर से-

मेरा नाम रितेश कुमार उपाध्याय हैं और मैं वर्ष 2001 से भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) में एक जीवन बीमा सलाहकार के रूप में काम कर रहा हूँ। इसके अलावा, मैंने 2015 से लगातार विभिन्न प्रकार के डिजिटल प्लेटफार्म का उपयोग करते हुए जीवन बीमा एजेंटो और विकास अधिकारीयों को ट्रेनिंग देने का कार्य कर रहा हूँ।

एक लेखक के रूप में इस एजेंट मैनेजमेंट कोर्स को शुरू करने से पहले मैं आपको यह बताना चाहता हूँ कि इस मैनेजमेंट कोर्स के विभिन्न अध्यायों के माध्यम से मैं जो भी जानकारी प्रस्तुत करने जा रहा हूँ वह मेरे अपने खुद के अनुभवों पर आधारित है। जो मैंने अपने कार्यो एवं ट्रेनिंग कार्यक्रमों के दौरान हासिल किया है।

तो चलिए, हम इस मैनेजमेंट कोर्स के पहले अध्याय की शुरुआत करते हैं।

काम टालने की आदत छोड़ें-

अगर कोई जीवन बीमा एजेंट सफल होना चाहता है, तो उसको सबसे पहले अपने महत्वपूर्ण कार्यो को टालने की आदत छोड़ देना चाहिए। क्योंकि अगर आप अपने महत्वपूर्ण कार्यो को टालते हैं, तो इसकी वजह से आपको जटिल समस्याओ का सामना करना पड़ता है और आप खुद के हाथो से ही अपने भविष्य में प्राप्त होने वाली सफलता की संभावनाओं का अंत कर देते हैं।

अब जब मैं कार्यो के टालने के संदर्भ में बातचीत कर रहा हूँ तो मेरे कहने का अर्थ सिर्फ आपके व्यावसायिक कार्यो से नहीं है, बल्कि मेरे कहने का अर्थ आपके व्यक्तिगत एवं व्यावसायिक दोनों ही प्रकार के कार्यो से हैं। अगर आप सिर्फ अपने व्यक्तिगत कार्यो को महत्व देते हैं तो आपका व्यावसायिक कार्य प्रभावित होगा और अगर आप अपने व्यावसयिक कार्यो को महत्व देते हैं, तो आपको अपने परिवार में तनाव का सामना करना पड़ेगा।

अब अगर मैं एक जीवन बीमा अभिकर्ता के व्यक्तिगत कार्यों की व्याख्या करूँ तो मैं यह कहना चाहूंगा कि आप एक जीवन बीमा एजेंट होने के साथ अपने परिवार के लिए बहुत अधिक महत्वपूर्ण हैं। आपको अपने परिवार के विभिन्न प्रकार के कार्य जैसे- घर के महीने के सामानों को बाजार से खरीदना होता हैं, बुजुर्ग सदस्यों की दवाइयों की व्यवस्था करना, बच्चो के विद्यालय की फीस जमा करना, इत्यादि ऐसे कार्य होते हैं जिसे आपको ही करना होता है।

ठीक इसी प्रकार आपको अपने जीवन बीमा कारोबार को करने के लिए नए व्यवसाय के लिए कार्य करना, पुरानी पालिसी की सेवाएं एवं अन्य विभिन्न प्रकार के कार्य करने होते हैं। इसके आलावा एक जीवन बीमा एजेंट को विभिन्न प्रकार के कार्यो के लिए ऑफिस सम्बंधित कार्यो को भी करना पड़ता है।

एक बार कल्पना करके देखिये, यदि किसी जीवन बीमा एजेंट को अपने कार्यो को टालने की आदत है तो इसका क्या परिणाम हो सकता हैं। आइये कुछ सम्भावनाओ के जरिये समझते हैं।



जीवन बीमा एजेंट के व्यक्तिगत कार्य-

मान लीजिये आपकी धर्मपत्नी एक दिन सुबह आपसे कहती हैं कि जब आप सायं के समय घर लौटिएगा तो बाजार से सब्जी खरीदकर लेते आइयेगा। अब एक पल के लिए कल्पना करके देखिये, आपको घर लौटने में देर हो जाता है और आप सब्जी खरीदना भूल जाते हैं। तो इसका क्या परिणाम हो सकता है?

दूसरे दिन सुबह आपको अपना जीवन बीमा कारोबार करने के लिए फील्ड में जाना होगा। आपके बच्चो को स्कूल जाना होगा। सब्जी न होने के कारण आपके धर्मपत्नी के सामने समस्या होगी। जिसका परिणाम यह हो सकता है कि तनाव के कारण आपका और आपकी पत्नी का झगड़ा हो जाये। अब अगर ऐसा होता है तो कल्पना करें दूसरे दिन जब आप अपना जीवन बीमा कारोबार करने के लिए फील्ड में जायेगे, तब ऐसी घटना का असर आपके कारोबार पर कैसा होगा?

जीवन बीमा एजेंट का प्रोफेशनल कार्य-

वैसे तो जीवन बीमा एजेंट को उसके कारोबार में कई तरह के काम करने होते हैं लेकिन मैं कुछ महत्वपूर्ण कार्यो के लिए आपका ध्यान आकर्षित करना चाहता हूँ। मान लीजिये कि आपको एक दिन अपने कार्य क्षेत्र में तीन लोगों से मिलते हैं और उनमे से एक व्यक्ति आपसे कहता है कि वह आपसे एक पालिसी समझना चाहता है और अगले दिन वह फ्री रहेगा, जिसके कारण वह अगले दिन आपसे मुलाकात करना चाहता है।

अब आप सोचते हैं कि शाम को जब आप घर जायेगे तो आप उस व्यक्ति का नाम प्रॉस्पेक्ट लिस्ट में लिख लेंगे। लेकिन शाम के समय आप ऐसा करते नहीं हैं तो इसका क्या परिणाम हो सकता है? हो सकता है कि अगले दिन किसी दूसरे कार्यो की वजह से आप ग्राहक को भूल जाये और आप उससे सम्पर्क न करें। अब अगर समय बीत जाने के बाद आप उस व्यक्ति से मिलने के लिए जाते भी हैं, तो हो सकता है कि वह व्यक्ति आपको समय न दे।

अगर आप अपने प्रोफेशनल कार्यो में टालमटोली की आदत रखते हैं तो निश्चित रूप से कुछ समय बाद आपको पता चलेगा कि वह व्यक्ति जो आपसे जीवन बीमा पालिसी समझना चाहता था, वह किसी दूसरे व्यक्ति से पालिसी खरीद चूका है।

जीवन बीमा एजेंट के लिए प्रथम प्रबंधन नियम-

उपरोक्त घटनाये इस बात की गवाही देती हैं कि यदि आप में कार्यो को टालने की आदत है, तो इसकी वजह से आपको आपके व्यक्तिगत एवं प्रोफेशनल दोनों ही जीवन में कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा। अतः आपकी सफलता के लिए हमारा सबसे पहला सुझाव होगा कि अगर आप अपने जीवन बीमा कारोबार को सफल बनाना चाहते हैं, तो आपको टालमटोली की आदत तत्काल छोड़ देना चाहिए।



व्यवस्था प्रणाली लागू करें-

अगर आप भारतीय जीवन बीमा निगम के पुराने अभिकर्ता हैं तो आपने अपनी शाखा कार्यालय के डॉकेट रूम को जरूर देखा होगा। पुराने समय में, जब तक की एलआईसी ने अपने प्रपोजल फार्मो को डिजिटलाइज नहीं किया हुआ था, तब तक विभिन्न प्रकार के कार्यो के लिए प्रपोजल फॉर्म को डॉकेट रूम से ही प्राप्त किया जाता था।

उस समय में, अगर आपको किसी पालिसी के डॉकेट की जरुरत होती थी तो आप अपना पालिसी नम्बर लिखकर देते थे। ऐसा करने के थोड़ी ही देर बाद आपको आपके पालिसी के डॉकेट प्राप्त हो जाता था। इसी तरह अन्य संस्थानों में चीज़ो को व्यवस्थित रखने का नियम होता है। ताकि जरूरत पड़ने पर सम्बंधित चीज़े आसानी से प्राप्त हो जाये।

अब अगर आप एक जीवन बीमा एजेंट हैं तो विचार कीजिये कि आप अपने सामानों को कैसे व्यवस्थित करते हैं? मान लीजिये कि आपने आज से दो महीने पहले अपने किसी ग्राहक के प्रीमियम को जमा कर दिया था और उसकी रसीद आपने अपने बैग में रखा था। लेकिन कुछ कारणों से उसकी रसीद आपने अपने बैग से निकाल कर कही रखी थी। आज वह ग्राहक आपके घर आया है और अपनी रसीद मांग रहा है, अब सवाल यह है कि क्या आप अपने ग्राहक को उसकी रसीद अगले 5 मिनट में दे पाएंगे?

अगर आप जीवन बीमा एजेंट हैं तो आपको अपने पारिवारिक जीवन की एवं व्यावसायिक जीवन की विभिन्न प्रकार की वस्तुओं व्यवस्थित रखने की आदत का विकास करना होगा। लेकिन यह कार्य अकेले आपके द्वारा हो पाना काफी कठिन है। चीज़ो को व्यवस्थित रखने की आदत आपको अपने परिवार के सभी सदस्यों के अंदर डालनी होगी।

उदाहरण- मान लीजिये कि आप और आपके परिवार के अन्य सदस्य विभिन्न प्रकार के घरेलु सामानों को घर में इधर उधर कही भी रख देते हैं और आप यह सोचते हैं कि घर के सामानों को व्यवस्थित रखने की जिम्मेदारी परिवार के किसी एक सदस्य की है। ऐसा घर, जहाँ रहने वाले लोगो की आदतें और विचारधारा ऐसी हैं, उन घरों के लोग अक्सर जरुरी सामानों के न मिलने पर आपस में झगड़ते हैं और तनाव में रहते हैं।

कल्पना कीजिये कि आपने पिछली शाम में एक लिस्ट तैयार की है जिसमे आपने लिखा है कि आज आप फील्ड में किस-किस व्यक्ति से मिलेंगे और आज आप फील्ड में क्या क्या करेंगे? लेकिन पिछली शाम को आपने उस लिस्ट के पेज को वही मेज पर छोड़ दिया था। वर्तमान में आप स्नान कर रहे हैं और ठीक उसी समय आपके घर में कुछ मेहमान आ जाते हैं। आपकी पत्नी ने बच्चो से कहती हैं कि बच्चे मेज पर रखे सामानों को हटा दें और मेहमानो को वही पर इंतज़ार करने के लिए कहें।

थोड़ी ही देर में बच्चे स्कूल चले जाते हैं और मेहमानो के जाने के बाद आप फील्ड में जाने के लिए तैयार हो जाते हैं। अब आपको आपके द्वारा बनाई गई लिस्ट की जरुरत है लेकिन वह आपको नहीं मिल रही है। कल्पना कीजिये कि घर में क्या स्थिति होगी? अब आप यह भी सोचिए कि इस पुरे प्रक्रम में गलती किसकी है और इसका परिणाम क्या-क्या हो सकता है?

दोस्तों, ऐसी ही बहुत सारी छोटी छोटी घटनाओं के कारण आपका पूरा परिवार तनाव का सामना करता है, अनावश्यक कारणों से समय का नुकसान होता है। आप स्वम विचार करके देखिये, अगर आपको आपके घर में ऐसे तनाव का सामना करने के बाद फिल्ड में जाना पड़े तो क्या आप अपना जीवन बीमा कारोबार सही तरीके से कर पाएंगे और इस तरह के माहौल की वजह से आपके जीवन साथी की स्थिति क्या हो सकती है?

जीवन बीमा एजेंट के लिए द्वितीय प्रबंधन नियम-

अगर आप एक जीवन बीमा एजेंट है तो आपको अपने पारिवारिक जीवन में विभिन्न प्रकार के दैनिक वस्तुओं को व्यवस्थित करने की रणनीति बनानी चाहिए। इसके साथ ही आपको यह भी चाहिए कि आप अपने कारोबार से सम्बंधित सभी प्रकार के सामानों को भी व्यवस्थित करें।

इस तरह की रणनीति बनाते समय आपको अपने परिवार के सभी सदस्यों को शामिल करना चाहिए। उनसे बातचीत करने के बाद सभी के सहमति से नियम बनाने चाहिए और यह सुनिश्चित करना चाहिए कि परिवार के सभी सदस्य इन नियमों का पालन करें। अगर आप ऐसा करते हैं तो इसकी वजह से आपका एवं आपके परिवार के सभी सदस्यों का बहुत अधिक समय बचेगा और व्यर्थ के पारिवारिक तनाव से आपके परिवार के सभी सदस्य मुक्त हो पाएंगे।





02 January 2024

Types of Endowment Life Insurance

Types of Endowment Life Insurance



हिंदी भाषा में पढ़ें »

Today, there are many investment options available to customers in the Indian market and each option has its own characteristics. Studies in this area show that every investment may not be the best option for every person. While one investment may be good for one person, the same investment may not be the right choice for another person.


This is because the economic condition of people, their needs and their objectives are different from each other. Therefore, being a Financial Advisor and Life Insuance Advisor, we would advise you to identify your Financial Situation, your Needs and your Goals before deciding on any investment, then study the various investment options carefully. After this select the most suitable plan for you.





In this article of Jeevan Bima Bazaar, the types of endowment plans are being explained. It is very important for you to know this. Because if you feel that Endowment Life Insurance Plan can be a better option for you, then you also need to know which format of Endowment Life Insurance will prove to be best for you?


Let us understand what are the formats of Endowment Life Insurance Plans available today?


Endowment Life Insurance Plan with Benefits:

These types of Life Insurance Plans are highly preferred by the customers. Because in Endowment Life Insurance Plans with Profit, the customer can choose the Sum Assured as per his need and desire. Life Insurance Companies set the premium for the Sum Assured selected by the customer.


The specialty of Endowment Life Insurance Plans with benefits is that on completion of the policy the customer receives the Sum Assured along with some additional money. This additional money is called bonus in Life Insurance Language.


Let us understand it in simple words. Suppose you have purchased a with-profit Endowment Life Insurance Policy. So whatever benefit the Life Insurance Company will receive due to this policy, the Life Insurance Company will declare it every year. Whatever benefit you earn in your policy based on this announcement made by the Life Insurance Company, will continue to be added to your policy. But such benefits will be paid only on maturity of the policy or in case of death.


Non-Profit Endowment Life Insurance Plan:

These types of Endowment Life Insurance Plans do not promise any bonus or other benefits to the customer. In non-profit Endowment Life Insurance Plans, the Sum Assured along with interest is paid on maturity of the policy or in the event of death.


In simple form, you can understand it in this way that bonus is announced every year in schemes with benefits. Due to which the customer knows how much benefit he has received from his policy every year. Whereas in non-profit Endowment Life Insurance Plans, the Life Insurance Company does not declare bonuses. In these plans, it is known only on Maturity or at the time of Death Claim, what benefit will be received from the policy?


Guaranteed Endowment Life Insurance Plan:

In such Endowment Life Insurance Plans, the customer receives Guaranteed Returns from their Policy. In such Endowment Life Insurance Plans, the Life Insurance Company decides in advance how much of the benefit from the policy will be returned to the customer with a Guarantee.


However, in some such plans, Life Insurance Companies promise Guaranteed Returns for a certain period, while in others, along with the Guaranteed Returns, they also promise some additional returns.


Our suggestion to you would be that if you decide to buy this type of Endowment Life Insurance Policy, then you must read all the rules of the policy carefully and buy the policy only after understanding it.





Types of Endowment Life Insurance based on Premium Deposit Method:

In the above, various types of Endowment Life Insurance Plans have been explained based on the returns of Endowment Life Insurance Plans. Let us know what are the types of Endowment Life Life Insurance Policies based on the method of Premium Payment?


General Endowment Life Insurance Plan:

In such Endowment Life Insurance Plans, the customer has the right to choose the term of the policy. There are many policy terms in this scheme like the customer can buy a policy for a period ranging from 12 years, 13 years, 14 years to 33 years, 34 years, 35 years. In General Endowment Life Insurance Plans, the policy premium has to be deposited for the period for which the customer selects the policy.


Limited Premium Payment Endowment Plan:

Limited Premium Payment Endowment Plans offer limited options for choosing the Policy Term. For example, the customer can choose a policy for a term of 15 years, 20 years or 25 years. Term selection options may vary in different Limited Premium Payment Endowment Plans.


But the customer does not have to Pay the Premium in these plans for the entire Policy Term.


Whole Life Endowment Life Insurance Plan:

In Whole Life Endowment Life Insurance Plans, the policy term is till the age of 80 years of the customer. In these plans, the customer also has to pay the premium of his policy till the age of 80 years.


In some formats of Whole Life Endowment Life Insurance Plans, the policy term is till the age of 80 years of the customer but the customer can choose the option of depositing the premium as per his wish.


Conclusion:

If you are a customer and want to buy an Endowment Life Insurance Policy. Then, I am confident that you will be able to choose the Best Endowment Life Insurance for yourself based on the information given in this article.


But there is still a lot of important information regarding Endowment Life Insurance, we would advise you to get this information before reaching any decision. Click on “Next Page” button below to get further information about Endowment Life Insurance.






01 January 2024

एंडोमेंट जीवन बीमा के प्रकार

एंडोमेंट जीवन बीमा के प्रकार



Read in English »

आज भारतीय बाजार में ग्राहकों के लिए निवेश के कई विकल्प मौजूद हैं और हर विकल्प की अपनी-अपनी खूबियां हैं। इस क्षेत्र का अध्ययन यह बताता है कि हर निवेश हर व्यक्ति के लिए उत्तम विकल्प नहीं हो सकता है। एक निवेश एक व्यक्ति के लिए अच्छा हो सकता है, तो वही निवेश दूसरे व्यक्ति के लिए सही विकल्प नहीं हो सकता है।


ऐसा इसलिए है क्योकि लोगों की आर्थिक स्थिति, उनकी जरूरते और उनके उदेश्य एक दूसरे से अलग होते हैं। इसलिए एक वित्तीय सलाहकार होने के कारण हम आपको यही सलाह देंगे कि किसी भी निवेश के लिए निर्णय लेने से पहले अपनी आर्थिक स्थिति, अपनी जरूरतों और अपने लक्ष्यों को पहचाने, फिर निवेश के विभिन्न विकल्पों का सावधानी पूर्वक अध्ययन करें। इसके बाद आपके लिए सबसे उपयुक्त योजना का चयन करें।





Jeevan Bima Bazaar के इस लेख में एंडोमेंट योजना के प्रकारों के विषय में बताया जा रहा है। यह जानना आपके लिए बेहद जरुरी है। क्योकि यदि आप महसूस करते हैं कि एंडोमेंट जीवन बीमा योजना आपके लिए एक बेहतर विकल्प हो सकता है, तो आपको यह भी जानना होगा कि एंडोमेंट लाइफ इंश्योरेंस का कौन सा प्रारूप आपके लिए सबसे अच्छा साबित होगा?


आइये हम यह समझते है कि आज एंडोमेंट जीवन बीमा योजनाओं के कौन-कौन से प्रारूप उपलब्ध हैं?


लाभ सहित एंडोमेंट जीवन बीमा योजना:

इस तरह की जीवन बीमा योजनाए ग्राहकों के द्वारा बहुत अधिक पसंद की जाती हैं। क्योकि लाभ सहित एंडोमेंट जीवन बीमा योजनाओं में ग्राहक अपनी जरुरत और इच्छा के अनुसार बीमाधन का चयन कर सकता है। जीवन बीमा कंपनी ग्राहक द्वारा चयन किए गए बीमाधन के लिए प्रीमियम निर्धारित करती हैं।


लाभ सहित एंडोमेंट जीवन बीमा योजनाओ की विशेषता यह होती है कि पालिसी के पूरा होने पर ग्राहक को बीमाधन की प्राप्ति होती है और इसके साथ कुछ अतिरिक्त धन भी प्राप्त होता है। इस अतिरिक्त धन को जीवन बीमा की भाषा में बोनस कहा जाता है।


आइये इसे सरल शब्दों में समझते हैं। मान लीजिये कि आपने एक लाभ सहित एंडोमेंट जीवन बीमा पालिसी खरीद ली है। तो जीवन बीमा कंपनी को इस पालिसी के कारण जो भी लाभ प्राप्त होगा, जीवन बीमा कंपनी प्रतिवर्ष उसकी घोषणा करेगी। जीवन बीमा कंपनी के द्वारा की गई इस घोषणा के आधार पर आपके पॉलिसी में जो भी लाभ अर्जित होगा, वह आपकी पॉलिसी में जुड़ता रहेगा। लेकिन इस तरह के लाभ का भुगतान पालिसी की मैच्योरिटी पर अथवा मृत्यु के स्थिति में ही होगा।


लाभ रहित एंडोमेंट जीवन बीमा योजना:

इस तरह की एंडोमेंट जीवन बीमा योजनाए ग्राहक को कोई बोनस अथवा अन्य लाभ देने का वायदा नहीं करती हैं। लाभ रहित एंडोमेंट जीवन बीमा योजनाओ में पालिसी की मैच्योरिटी पर अथवा मृत्यु की स्थिति में बीमाधन के साथ व्याज का भुगतान कर देती है।


साधारण रूप में आप इसे इस प्रकार से समझ सकते है कि लाभ सहित योजनाओ में प्रतिवर्ष बोनस की घोषणा होती है। जिसके कारण ग्राहक को यह पता होता है कि प्रतिवर्ष उसके पालिसी में कितना लाभ मिला है। जबकि लाभ रहित एंडोमेंट जीवन बीमा योजनाओ में जीवन बीमा कंपनी बोनस की घोषणा नहीं करती है। इन योजनाओ में मैच्योरिटी पर अथवा मृत्यु दावे के समय ही पता होता है कि पालिसी से क्या लाभ प्राप्त होगा?


गारंटीड एंडोमेंट जीवन बीमा योजना:

इस तरह की एंडोमेंट जीवन बीमा योजनाओं में ग्राहक को उनकी पॉलिसी से गारंटी रिटर्न प्राप्त होता है। इस तरह की एंडोमेंट जीवन बीमा योजनाओ में, जीवन बीमा कंपनी पहले से ही निर्धारित कर देती है कि पॉलिसी से कितना लाभ गारंटी के साथ ग्राहक को वापस किया जायेगा।


हालाँकि इस तरह की कुछ योजनाओ में, जीवन बीमा कंपनियाँ कुछ निश्चित अवधि के लिए भी गारंटीड रिटर्न का वायदा करती है, तो कुछ में गारंटीड रिटर्न के साथ-साथ कुछ अतिरिक्त रिटर्न का भी भरोषा देती हैं।


आपके लिए हमारा सुझाव होगा कि यदि आप इस तरह की एंडोमेंट जीवन बीमा पालिसी को खरीदने का मन बनाते हैं तो आपको पालिसी के सभी नियमो को ध्यान से जरूर पढ़ना चाहिए और समझने के बाद ही पालिसी खरीदना चाहिए।





प्रीमियम जमा विधि के आधार पर एंडोमेंट जीवन बीमा के प्रकार:

उपरोक्त में एंडोमेंट जीवन बीमा योजनाओ के रिटर्न के आधार पर एंडोमेंट जीवन बीमा योजनाओ के विभिन्न प्रकारो को बताया गया है। आइये अब जानते है कि प्रीमियम जमा करने की विधि के आधार पर, एंडोमेंट जीवन बीमा पॉलिसियाँ कितने प्रकार की होती है?


सामान्य एंडोमेंट जीवन बीमा योजना:

इस तरह की एंडोमेंट जीवन बीमा योजनाओं में ग्राहक को पॉलिसी की टर्म चयन करने का अधिकार होता है। इस योजना में पॉलिसी के कई टर्म होते हैं जैसे ग्राहक 12 साल, 13 साल, 14 साल से 33 साल, 34 साल, 35 साल तक की अवधि की पालिसी खरीद सकता है। सामान्य एंडोमेंट जीवन बीमा योजनाओं में ग्राहक जिनते अवधि के लिए पॉलिसी चयन करता है, पालिसी की प्रीमियम उतने अवधि तक जमा करना होता है।


सीमित प्रीमियम भुगतान एंडोमेंट योजना:

सीमित प्रीमियम भुगतान बंदोबस्ती योजनाएं पॉलिसी अवधि चुनने के लिए सीमित विकल्प प्रदान करती हैं। उदाहरण के लिए ग्राहक 15 साल, 20 साल अथवा 25 साल की अवधि के लिए पालिसी चयन कर सकता है। अलग-अलग सीमित प्रीमियम भुगतान एंडोमेंट योजनाओ में टर्म चयन करने के विकल्प अलग-अलग हो सकते हैं।


लेकिन ग्राहक को इन योजनाओ में प्रीमियम का भुगतान पूरी पालिसी की अवधि तक नहीं करना होता है।


आजीवन एंडोमेंट जीवन बीमा योजना:

आजीवन एंडोमेंट जीवन बीमा योजनाओ में पालिसी का टर्म ग्राहक की 80 वर्ष की आयु तक का होता है। इन योजनाओ में ग्राहक को उसके पालिसी की प्रीमियम का भुगतान भी उसके 80 वर्ष की आयु तक जमा करना होता है।


आजीवन एंडोमेंट जीवन बीमा योजनाओ के कुछ प्रारूपों पालिसी की अवधि ग्राहक के 80 वर्ष की आयु तक की होती है लेकिन प्रीमियम जमा करने का विकल्प ग्राहक अपनी इच्छ्नुसार चयन कर सकता है।


निष्कर्ष:

अगर आप एक ग्राहक है और एंडोमेंट जीवन बीमा पालिसी खरीदना चाहते है। तो मुझे विश्वास है कि आप इस लेख में दी गई जानकारी के आधार पर अपने लिए सर्वश्रेष्ठ एंडोमेंट जीवन बीमा चुनने में सक्षम होंगे।


लेकिन एंडोमेंट जीवन के सदर्भ में अभी भी कई महत्वपूर्ण जानकारियाँ है, हमारी सलाह होगी कि किसी भी फैसले पर पहुंचने से पहले आप इन जानकारियों को जरूर प्राप्त करें। एंडोमेंट जीवन बीमा के बारे में अगली जानकारी प्राप्त करने के लिए निचे दिए "अगला पेज" बटन पर क्लिक करें।







30 December 2023

Usefulness of Endowment Life Insurance

Usefulness of Endowment Life Insurance



हिंदी भाषा में पढ़ें »



Endowment Life Insurance Plans provide you and your family with a financially secure future and the ability to face difficult situations in life. Today Indian society is changing very rapidly and in this rapid change, you need to remain Financially Strong and Stable.


In this article of Jeevan Bima Bazaar, we will know those aspects of Endowment Life Insurance which impact the life of every person. So that you can understand the needs, goals and possibilities of human life and know how Endowment Life Insurance Plans can help in all this?





For Children's Education:

Every parent tries to give good education to their children. But in India, good education means spending more money in the form of fees for children. It has been observed that the tuition fees of children in Government Educational Institutions are quite low. But the standard of work of teaching and learning in Government Educational Institutions is quite worrying.


The level of education in Private Educational Institutions is satisfactory, but due to the tuition fees being higher than required, it is not within the power of every parent to educate their children in Private Educational Institutions. Although a normal parent can somehow bear the burden of Education Expenses up to High School and Intermediate, but it is not in everyone's power to provide Higher Education or Professional Education.


If you want to provide Professional Education to your children, then Endowment Life Insurance Plans can prove beneficial for you. If your child age is low then you can buy a long term Endowment Life Insurance Policy. Because long term Endowment Life Insurance Policies have low premiums and good returns on maturity.


Endowment Life Insurance Plan also proves to be better for Children's Education because if you die before the maturity of the policy, then the death claim is paid from the Endowment Life Insurance Policy. The money received from this Death Claim can be used in the Education of Children.


For Marriage of Children:

In India, every parent tries to select a suitable house and groom for the marriage of their daughter. Along with this, every parent wants to make their daughter's marriage as grand as possible. Due to which a lot of money is spent in an Indian wedding.


If you are also the parent of a daughter, then you too would want to marry your daughter with pomp and show. If a person wants to marry his daughter today, he will need more money. But if you have enough time to get your daughter married, you can plan to arrange the money to do so.


With the help of Endowment Life Insurance Plans, you can plan to fund your daughter's wedding expenses. If the parents of a young girl plan to manage money for her marriage from an early age with the help of an Endowment Life Insurance Policy, they can buy a long term policy.


Long term Endowment Life Insurance Policies provide higher returns at maturity and reduce the premium burden on parents. If you buy an Endowment Life Insurance Policy for your daughter's marriage, doing so guarantees that you will have money for your Daughter's Marriage.


Because, if you survive, you get the maturity of this policy which you can use for your Daughter's Marriage. But if you die, the Death Claim is paid from this Endowment Life Insurance Policy. By using which the Daughter's Marriage can be done very comfortably.





Financial Security:

Endowment Life Insurance Plans can become a unique means of Financial Security for you. Let us understand this with an example. You are able to manage your family's food, clothing, house, children's education etc. with your earnings. Apart from this, you make various types of savings and investments and buy jewelery and property to meet various future needs of yourself and your family.


Just consider whether your earnings, your savings and other investments are really safe. You might think, "Yes, your savings and other investments are safe." But in reality it is not so. Imagine what would happen if you die and you are not around to tell your family where your savings or investments should be used?


Can you still say that your earnings, savings and other investments are safe? Do you still feel that your family will spend the money you have saved or made other investments where you wanted?


Just imagine, you have invested money in a property during your lifetime so that when you have to complete your child's higher education, you will sell this property and use the money received from it for the higher education expenses of the child. So, after your death, will your family use your property for this purpose?


After your death your family will face financial crisis. In such a situation, will your family not use the property invested by you to meet their current financial needs?


Endowment Life Insurance Plans guarantee that your savings and other investments will remain safe even after your death. Because Endowment Life Insurance Plans pay a Death Claim in the event of your death, your family can have a means of employment to meet their immediate needs.


Wealth Creation:

Every person wants to create wealth, property etc. for his/her next generation. Endowment Life Insurance Plans can help you meet such goals. Some types of Endowment Life Insurance have a provision with the help of which you can get the benefit of Risk Cover (Financial Assistance During Death) during the policy term.


But if you survive till the maturity of the policy, you get the maturity amount of the policy. But such Endowment Life Insurance Policies do not stop and there is no need to pay premium after maturity in these policies. But it provides you the benefit of lifetime risk cover.





Helpful in Crime Control:

Many such survey reports provide evidence that the root cause of most crimes is lack of money. Lack of education is also found to be a major reason behind many crimes. Endowment Life Insurance Plans prove helpful in controlling such crimes.


I want to clarify my point with an example.


A family whose head is fulfilling the daily needs of his family with his earnings and suddenly crashes. Both his property and savings are spent on his treatment. But despite this the chief dies.


The chief has taken some debt and after his death debtor start harassing the family members to get his money. Amidst these problems, another tragedy occurs in the family when the health of the head's younger child suddenly becomes very bad.


The cost of treatment is so high that it is beyond the capacity of this family. So the chief's wife tries to get more loans from the people, but fails. After this she asks for help from her relatives, but she does not get the help she needs. Due to which two types of crimes are born in this family.


First Offence:

Now the chief's wife is forced to get treatment for her younger child. Due to which she is forced to take up prostitution so that she can get treatment for her younger child and support her other children.


Second Offence:

In this difficult situation, some debtors keep harassing the family repeatedly to demand their loan, due to which the elder son of the head murders one of the debtors.


Many such incidents are seen in the society and this is just the beginning of a crime. In future, such people gradually sink into the mire of crime.


Endowment Life Insurance Plans do not allow such crimes to take place. Because if the head buys an Endowment Life Insurance Policy on his life as per his needs, then his family gets a huge amount from this policy after the death of the head.


The family can repay the loan with this amount and start a new job to meet their daily needs. Therefore, Endowment Life Insurance Plans prove to be indirectly helpful in preventing various types of crimes. It is beneficial for your family and also for your society.


Conclusion

I am sure that after reading this article, you must have understood the importance of Endowment Life Insurance. On one hand, these schemes help in fulfilling the needs of a person and his family and on the other hand, with its help, the family is able to live a Normal Life in an adverse environment.


So if you are planning to save, then you must also consider the aspects given in this article. But this information regarding Endowment Life Insurance does not end here, there are some more important things which you must know before buying this type of Life Insurance Plan.


To get further information on this topic, click on the "Next Page" button given below.